Tuesday, October 11, 2011

पसंद...



जरूरी नहीं हर बार
हर काम तेरी पसंद से करूँ
यह भी जरूरी नहीं हर बार
हर बात तेरी पसंद की कहूँ
बस मैं वह करूँ, वह कहूँ
जिससे सब तुझे पसंद करें!